kasoor lyrics in hindi by pratik

कसूर Kasoor Lyrics in Hindi Prateek Kuhad

About Song Lyrics:-

Kasoor Lyrics Hindi of Prateek Kuhad :- Presenting New smoothing Hindi Song which is sung and composed by prateek. Lyrics of KYA KASOOR is given by him also.

Kasoor Lyrics in Hindi:-

हाँ मैं गुमसुम हूँ, इन राहों की तरह,
तेरे ख्वाबों में तेरी ख्वाहिशों में छुपा,
ना जाने क्यों है रोज़ का सिलसिला,
तू रूह की है दास्तान

तेरे ज़ुल्फ़ों की ये नमी, तेरी आँखों का ये नशा,
यहाँ खो भी जाऊं तोह मैं, क्या कसूर है मेरा,
क्यों ये अफ़साने इन लम्हों में खो गए,
हम घायल थे इन लफ़्ज़ों में खो गए थे

हम अनजाने अब दिल में तुम हो
छुपे हम हैं सेहर की परछाइयां,
तेरी साँसों की रात है, तेरे होंठों की है
सुबह यहाँ खो भी जाऊं तोह मैं,

क्या कसूर है मेरा, क्या कसूर है मेरा।
तेरी जुल्फरों की ये नमी तेरी आँखों का ये नशा
यहाँ खो भी जाऊं
तो मैं क्या कसूर है मेरा।

तेरी साँसों की रात है,
तेरे होंठों की है सुबह यहाँ खो भी जाऊं तोह मैं,
क्या कसूर है मेरा,
क्या कसूर है मेरा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *